Tuesday, June 5, 2012

कहानी की तरह ...।

कभी रुलाती तो कभी हंसाती है जिंदगी,
 कभी जलती तो कभी जलाती है जिंदगी .!

खुबसूरत वो पल होते है जब दीदार--यार होता है,
वरना किताबों में लिखी कहानी की तरह रह जाती है जिंदगी ….!

No comments: