Thursday, March 29, 2012

इश्क-मोहब्बत ...

अपने दिल में हर तेरी याद सजा लेंगे,
 चोरी-चोरी तुम्हे अपना बना लेंगे !

तुम्हारे लिए अपना सिर झुकाए खड़े हैं,
 चोरी-चोरी तुम्हारे सपने चुरा लेंगे !


इश्क-मोहब्बत ही जिंदगी होती है रमन,
 वरना जिंदा रहके भी कहाँ जिंदा रहेंगे !!!!

No comments: