Saturday, April 16, 2011

जाने के बाद ......

मुद्दत से किसी की आस, दिल में जगाये हुए थे हम |
 प्यास दिल की कही, दिल में छुपाये हुए थे हम |
चले थे मापने प्यार की गहराई को हम,
 लेकिन खुद ही उस गहराई में उतर आये थे हम |
किया था प्यार किसी ने हमसे, क्यों ना समझ पाए थे हम |
 हाए ..... यह प्यार क्या चीज़ है,
उसके जाने के बाद ही क्यों समझ पाए है हम ???

No comments: